World's First Portal Publishing News in Hinglish

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान नहीं पहुंचे धारा 370 के आपात बैठक में, विपक्ष ने किया हंगामा

0 53

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान धारा 370 पर होने वाली आपात बैठक में नज़र नहीं आए। जिसके कारण विपक्ष के लोगो ने हंगामा मचा दिया। बता दें कि आर्टिकल 370 के लागू होने के साथ ही पाकिस्तान में हड़कंप मच गया था जिसके लिए पाकिस्तान ने नेशनल असेंबली और सीनेट का संयुक्त सत्र की एक आपातकालीन बैठक बुलाई थी जिसमें प्रधानमंत्री नदारद रहे।

विपक्ष ने इमरान खान की गैर मौजूदगी देख कर इस कदर हंगामा मचा दिया कि बैठक को अगले बीस मिनट के लिए रद्द कर दिया गया है। ANI के अनुसार विपक्ष ने मांग की है कि बिना इमरान खान की मौजूदगी के कोई भी बैठक नहीं होगी।

धारा 370 और 35A के रद्द होने पर पाकिस्तान की प्रतिक्रिया

दरअसल बात कुछ ऐसी है कि कश्मीर का मुद्दा हमेशा से ही राजनितिक और सियासी मतभेदों से अलग रहा है। चाहे विपक्ष में कोई भी हो, अगर बात कश्मीर की होगी तो सब एक राग ही अलापेंगे।

वैसे तो पाकिस्तान में तभी से हड़कंप मचा हुआ है जब होम मिनिस्टर अमित शाह ने आर्टिकल 370 को रद्द करने का प्रस्ताव रखा था। हालाँकि सबको यही लग रहा था कि ये बिल पास नहीं होगा लेकिन जब सेंटर में बीजेपी की सरकार हो तो फैसला लेने में देर नहीं लगती, भले ही मुद्दा कितना भी गंभीर और सनसनी वाला ही क्यों न हो।

पाकिस्तान की इस मीटिंग का एक ही उद्देश्य है कि किसी भी तरह भारत के इस फैसले का अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विरोध किया जाए और ज्यादा से ज्यादा देशों को पाकिस्तान अपने साथ मिलाये। पाकिस्तान की माने तो कश्मीर भारत का हिस्सा नहीं है और एक विवादित क्षेत्र है। वहीँ दूसरी ओर भारत कश्मीर को अपना अभिन्न अंग मानता है।

भारत के इस फैसले का विरोध करते हुए पाकिस्तान ने पहले ही साफ़ कर दिया है कि इस मुद्दे को वो सयुक्त राष्ट्र में उठाएगा। बता दें कि धारा 370 और 35A को ख़तम कर के जम्मू कश्मीर को अब केंद्र-शासित प्रदेश बना दिया गया है। वहीँ लद्दाख को कश्मीर से अलग कर के बिना विधानसभा वाला केंद्र-शासित प्रदेश घोसित किया गया है।

अगर आपको फैशन, लाइफ टिप्स, लव टिप्स, और हेल्थ से जुड़ी जानकारी चाहिए तो अभी हिंगलिश लाइफस्टाइल वेबसाइट को विजिट कीजिये।

Content Protection by DMCA.com

Comments

0 comments

Leave A Reply

Your email address will not be published.